M.A का Full Form क्या है ? Full form Of M.A In hindi

M.A ka Full Form kya hai

M.A का Full Form क्या है 

दोस्तों B.A करने के बाद आपके मन में एक सवाल आता है कि आगे क्या करें। आज हम आपको अपने आर्टिकल में उसकी जानकारी देने वाले हैं जिससे आपको आगे की कोर्स करने में आसानी होगी B.A के बाद अक्सर लोगों का रुझान MA की तरफ होता है तो आज हम आपको बातएंगे की M.A का full form क्या है ? M.A कैसे करे ? M.A की फीस कितनी है  के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

M.A का Full Form क्या है Full form Of M.A In hindi .

दोस्तों आपने M.A के कोर्स के बारे में तो सुना होगा आज हम आपको MA के बारे में सरल भाषा में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं M.A. का Full Form क्या है – “Master OF Arts” होता है यानी हिंदी में स्नातकोत्तर (post-graduate) या मास्टर डिग्री है।

M.A  क्या होता है ? Full Form (M.A)

एक मास्टर डिग्री कोर्स है जो B.A (Bachelor Of Arts) के बाद किया जाता है. M.A के कोर्स को पोस्टग्रेजुएट भी कहा जाता है B.A करने के बाद कोई भी छात्र M.A. कर सकता है B.Sc और B.com वाले छात्र भी M.A. कर सकते हैं. किसी भी विषय में किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं. M.A एक ऐसा डिग्री है जो आर्ट्स मैं मास्टर की उपाधि देती है. M.A करने के बाद आपके पास मास्टर की डिग्री आ जाती है. जिससे आपको अच्छी जॉब के ज्यादा चांसेस मिलते हैं.

M.A Course की अवधि | Duration Of M.A

MA की डिग्री आप 2 साल में पूरी कर सकते हैं. और पोस्ट ग्रेजुएट कहला सकते हैं.M.A की डिग्री स्टूडेंट दो तरह से कर सकते हैं रेगुलर और प्राइवेट दोनों तरह से करने में 2 साल का समय लगता है यह स्टूडेंट के अनुसार होता है कि वे M.A. प्राइवेट करना चाहते हैं. या रेगुलर यह निर्णय उन्हें form fill करते समय लेना होता है. M.A 2 साल का होता है इसमें 4 सेमेस्टर होते हैं।

Eligibility (योग्यता )

M.A. करने के लिए छात्रों को 3 साल का बैचलर डिग्री पास करनी होती है B.A, B.Sc, B.Com करने के बाद M.A. कर सकते हैं. लेकिन इसमें आपको मार्क्स अच्छे होंगे तभी आप B.Sc से Arts साइट में जा पाओगे। ये आपको collages जाकर पता करना होगा की उनका क्या क्राइटेरिया है।

नॉर्मल आपको average marks  45%  -50%परसेंट होना चाहिए arts स्टूडेंट के लिए हमेशा से इंटरेस्टिंग सब्जेक्ट रहा है जो क्रिएटिव माइंड के होते हैं और दुनिया को उसे दृष्टि से देखना चाहते हैं M.A की डिग्री इंडिया के साथ-साथ अन्य countries में भी लोकप्रिय डिग्री रही है डिग्री कोर्स की सबसे इंटरेस्टिंग बात यह है कि आप ऐसे किसी भी भाषा जैसे हिंदी अंग्रेजी या अन्य क्षेत्रीय भाषा में कर सकते हैं स्टूडेंट जिस भी माध्यम में आसानी हो उस माध्यम  में वह डिग्री कोर्स कर सकता है।

Top M.A colleges In India

आप M.A किसी भी Collage या University से कर सकते हैं. चाहे वह गवर्नमेंट हो या प्राइवेट कॉलेज आप M.A की डिग्री इन कॉलेजों ले सकते है.

Top University/Collages Official Website
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ https://www.amu.ac.in/
लवली यूनिवर्सिटी जालंधर https://www.lpu.in/
छत्रपति शाहूजी महाराज सीएसजेएम यूनिवर्सिटी कानपुर http://csjmu.ac.in/
दयानन्द एंग्लो वैदिक कॉलेज (DAV)  http://davcollegekanpur.org/
लोयोला कॉलेज चेन्नई https://www.loyolacollege.edu/
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ https://www.cuchd.in/
जैन यूनिवर्सिटी (JU )बेंगलुरु https://www.jainuniversity.ac.in/
हिन्दू कॉलेज New Delhi http://www.hinducollege.ac.in/
Fergusson College Pune https://www.fergusson.edu/

इन colleges University से आप M.A. की डिग्री ले सकते हैं इन मे से कुछ collages private है कुछ   government है.

M.A. में किन सब्जेक्ट का चयन किया जा सकता है

B.A . करने के बाद जब आपका का रुझान M.A. की तरफ जाता है तो आपकी मन में यह सवाल उठता है कि आप M.A. किस सब्जेक्ट से कर सकते हैं M.A. में arts से संबंधित सभी सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं M.A. में हम अलग-अलग सब्जेक्ट में डिग्री ले सकते हैं।

M.A. में कौन से सब्जेक्ट होते हैं

  • English 
  • Hindi 
  • Economic 
  • History 
  • Sociology 
  • Political science 
  • Education 
  • Philosophy 
  • Urdu 
  • Sanskrit 

Practical subjects in Ma

  • Home science 
  • Geography 
  • Military science 
  • Education 
  • Statics 
  • Physical education 
  • Physiology 

M.A. करने से क्या होता है

M.A. की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप पोस्ट ग्रेजुएट हो जाते हैं एम ए करने के बाद अब किसी भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं चाहे वह प्राइवेट है या गवर्नमेंट सेक्ट M.A. करने के बाद कोई भी Government Jobs का आवेदन किया जा सकता है आप किसी भी प्राइवेट या गवर्नमेंट कॉलेज में टीचिंग के लिए apply कर सकते हैं ज्यादातर Government Jobs के लिए M.A. की डिग्री आवश्यक होती है. MA के बाद आप आसानी से जॉब हासिल कर सकते हैं. M.A करने के बाद आप किसी भी फील्ड में अपना कैरियर बना सकते हैं. या अगर आप पढ़ाई करना चाहे तो कर सकते हैं।

M.A. की फीस कितनी होती है ?

B.A . करने के बाद जब आप M.A करना चाहते हैं. तो आप यह जरुर सोचते हैं कि M.A. की फीस कितनी है और M.A. करने में कितना खर्च आएगा यह सवाल आपके मन में आता है. M.A. करने के लिए आपके पास दो विकल्प होते हैं प्राइवेट या गवर्नमेंट यूनिवर्सिटीज ये आप पर निर्भर करता है. कि आप M.A. प्राइवेट कॉलेज से करना चाहते हैं. या रेगुलर कॉलेज से.

M.A Course की Fees कॉलेज और यूनिवर्सिटी में अलग-अलग होती है. गवर्नमेंट कॉलेज की तुलना में प्राइवेट कॉलेज की फीस ज्यादा होती है M.A 2 साल का होता है इसमें 4 सेमेस्टर होते हैं. Ma की फर्स्ट ईयर की fees प्राइवेट कॉलेज में लगभग 8000 से 10000 तक होती है और गवर्नमेंट कॉलेज में लगभग 4000 से 8000 तक होती है M.A. फीस subject पर भी निर्भर करती है कि आप M.A  में कौन सा सब्जेक्ट लेते  हैं subject के अनुसार सभी कॉलेज व यूनिवर्सिटी में M.A  की fees अलग अलग होती है अगर प्रैक्टिकल सब्जेक्ट लेते हैं तो उसकी fees ज्यादा होती है

Ma specialization  program 

स्पेशलाइजेशन अध्ययन का एक ऐसा ध्यान आकर्षित क्षेत्र है जो प्रमुख आवश्यकता से परे विशिष्ट शोध के साथ-साथ एक विशेष अध्ययन कार्य क्षेत्र उपलब्ध कराता है.M.A. की डिग्री सबसे पुरानी और सबसे Famous डिग्री है. Ma  के main subject के साथ-साथ कुछ ऐसे सब्जेक्ट है. जिनमें Specialization किया जा सकता है.और अच्छा कैरियर बनाया जा सकता है।

Ma specialization subjects 

  • Ma political science 
  • Ma theology 
  • Ma media 
  • Ma teaching 
  • Ma area study 
  • Ma cultural studies 
  • Ma communications 
  • Ma international relations 
  • French
  • German 
  • Hindi
  • Spanish 
  • Greek  
  • Latin 
  • Economic 
  • Psychology 
  • History 
  • Music
  • Literature 
  • Sanskrit 

आप इन सब्जेक्ट से Ma specialization कर सकते हैं. और अच्छा कैरियर बना सकते हैं.

M.A. के साथ कौन से कोर्स कर सकते है

अगर आप Ma कर रहे हैं तो आपके मन में यह सवाल उठता है कि क्या आप M.A. के साथ कोई और कोर्स भी कर सकते हैं. और कौन सा कोर्स कर सकते हैं. जिससे आपको फ्यूचर में आसानी हो तो आज हम आपको बताने वाले हैं. कि आप M.A. के साथ कौन से Course कर सकते हैं. 

Ma के साथ B.Ed कर सकते हैं

Ma के साथ B.Ed कर सकते हैं कि नहीं यह सवाल आपके मन में आता होगा तो हम आपको बताते हैं कि आप Ma के साथ बीएड भी कर सकते हैं. एक साथ दो course कर सकते हैं.अगर आप M.A. के साथ B.Ed करना चाहते हैं. तो आपको B.Ed Regular करना होगा और Ma प्राइवेट करना होगा आप एक साथ दो कोर्स य डिग्री रेगुलर नहीं कर सकते हैं. आपको एक प्राइवेट करना होगा और एक रेगुलर बीएड और M.A एक साथ करने के लिए आपको B.Ed रेगुलर करना होता है. और M.A प्राइवेट कर सकते हैं.

M.A. के साथ-साथ आप लैंग्वेज कोर्सेज भी कर सकते हैं. इसके अलावा Computer Course ,government jobs, Education Course भी कर सकते हैं.आप इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स भी कर सकते हैं।

M.A. के बाद कौन कौन सा कोर्स करना चाहिए

एम ए करने के बाद आपका सारा फोकस कैरियर की तरफ रहता है. आप भी यह सोचते हैं कि M.A. के बाद क्या करें जिससे अच्छा Career बनाया जा सकता है. Ma मास्टर ऑफ आर्ट्स के बाद कई कोर्स कर सकते हैं. 

M.A. (मास्टर ऑफ आर्ट्स) के बाद आप बहुत से कोर्स कर सकते हैं.

  • B.Ed
  • M.Ed
  • M.phil 
  • PHCl
  • MBA
  • LLB
  • Diploma
  • M.CA
  • Hotal Management 
  • Fashion designing 
  • Medical courses 
  • Nursing courses 

इसके अलावा ऑफ गवर्नमेंट जॉब के लिए एग्जाम की भी तैयारी कर सकते हैं जैसे राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) राज्य स्तरीय कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा ,रेलवे, पोस्ट ऑफिस और आईबीपीएस एग्जाम आदि की भी तैयारी कर सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं।

MA scope /career 

M.A. मास्टर ऑफ आर्ट्स करने के बाद अक्सर आपके मन में यह सवाल उठता है. कि अब हम अपने कैरियर कैसे बनाए Ma मास्टर ऑफ आर्ट्स के बाद अपना कैरियर कैसे बनाए Ma के बाद अक्सर लोगों का रुझान सरकारी नौकरी की तरफ ही होता है. M.A. के बाद 90% लोग गवर्नमेंट जॉब के लिए अप्लाई करते हैं. ज्यादातर गवर्नमेंट जॉब के लिए M.A. की डिग्री अनिवार्य होती है. आप M.A. करने के बाद किसी भी गवर्नमेंट जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं. 

M.A Education के फायदे ?

अगर आपने M.A. एजुकेशन से किया है. तो आपको अलग से B.Ed करने की आवश्यकता नहीं होती है. M.A. एजुकेशन के बाद आप डायरेक्ट TET की परीक्षा दे सकते हैं. और टीचर की जॉब प्राप्त कर सकते हैं.

M.A. की बाद आप मेडिकल की फील्ड में अपना कैरियर बना सकते हैं M.A. के बाद आपको मीडिया की फील्ड मी भी जा सकते हैं. पब्लिक सेक्टर में भी आप अपना कैरियर बना सकते हैं. एम ए करने के बाद बैंकिंग की फील्ड मी भी जाया जा सकता है. as a clerk भी आप ज्वाइन कर सकते हैं.. एम ए करने के बाद आपको स्कूल टीचर बन सकते हैं. कार्यक्रम प्रबंधक ,छात्र सेवा निरीक्षक, प्रोफेसर, कृषि विकास अधिकारी, परीक्षा प्रबंधक भी बन सकते हैं.

M.A. (मास्टर ऑफ आर्ट्स) इंग्लिश 

अगर आपने M.A. (मास्टर ऑफ आर्ट्स) इंग्लिश में किया है. तो आप कारपोरेट सेक्टर , एनजीओ, टूरिज्म, पब्लिक सेक्टर, बिजनेस ,टीवी, रेडियो एडवरटाइजमेंट, इंटरप्रेटर, पीडीपीयू फील्ड में भी आसानी से अपना कैरियर बना सकते हैं. 

M.A.History 

अगर आपने M.A.History से किया है. तो आपकी पत्रकारिता ,म्यूजियम ,लाइब्रेरी निर्देशक, इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन, रिसर्च आदि में आसानी से जॉब मिल सकती है.अपनी मेहनत और लगन से आप किसी भी क्षेत्र में अपना कैरियर आसानी से बना सकते हैं।

Conclusion 

इस आर्टिकल में हमने MA यानि मास्टर ऑफ आर्ट की पूरी जानकारी देने की कोशिश की है आशा करते हैं कि हमारी बताई गई जानकारी आपके लिए लाभदायक होगी इससे आप अपने भविष्य को उज्ज्वल बना सकते हैं अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी है तो इसको आगे भी शेयर जरूर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here