BBA full Form

बीबीए का फुल फॉर्म हिंदी में

आज का ये लेख उन विद्यार्थी के लिए है जो 12वी के बाद एक business डिग्री या बिजनेस कोर्स करना चाहते है.साथ ही BBA Full Form in hindi क्या है. ये भी जानेंगे ओर विस्तारपूर्वक सारी जानकारी बताएंगे.हमारे साथ अखरी तक बने रहे. BBA का full Form क्या है ओर BBA कैसे करे.BBA में admission कैसे ले. BBA में कितने सेमेस्टर होते है.BBA के बाद क्या करना होता है.BBA करने से कौनसी Jobs मिलती है ,bba का क्या scope है। Top BBA College In India .BBA Full form In hindi .जाने ये सारी जानकारी हमारे हिंदी बाज ब्लॉग में।

बीबीए क्या है ? 

BBA एक डिग्री है जो 12वी के बाद आती है. जैसे BA ,B.SC,B.Com होता है वैसे ही BBA भी होता है। बीबीए में business skill को सिखाया जाता है.बीबीए करने के बाद आप सरकारी नोकरी और प्राइवेट नौकरी दोनो की तरफ जा सकते है जबकि जायदा तर ये कोर्स लोग बिजनेस या मार्केटिंग करने के लिए करते है। अगर आपका कोई बिजनेस है ओर आप उस बिजनेस को फ्यूचर में आगे ले जाना चाहते हो तो ये कोर्स आपकी बहुत हेल्प कर सकता है।अगर इसके बाद MBA करते है तो आपके बिजनेस के लिए ये डिग्री चार चांद लगा देगी।

BBA Course क्यो करें ?

जब ठीक बैचलर कोर्सेलम की दुकान आती है, तो कई विकल्प उपलब्ध होते हैं। अगर आप विदेश में या भारत में पढ़ाई करने की योजना बना रहे हैं तो आप देखेंगे कि छात्र बार-बार बीबीए, बीकॉम आदि जैसे कोर्स की पढ़ाई करते हैं। अधिकांश छात्र बीबीए कोर्स के विवरण का अध्ययन क्यों करते हैं? इसका कारण नीचे कुछ विवरण दिये गये हैं-

बैचलर कोर्स का चयन समय, कई वैकल्पिक का मोह हो सकता है। अगर आप विदेश में पढ़ाई करने की सोच रहे हैं या भारत में, तो आपको यह देखना होगा कि बच्चे अक्सर बीबीए या बी.कॉम जैसे कोर्स चुनते हैं। अधिकांश छात्र बीबीए के विवरण हिंदी में जानने की प्राथमिकताएं क्यों देते हैं? यह जानने के लिए, निम्नलिखित कुछ कारण प्रस्तुत हैं:

 व्यावसायिक कोचिंग के लिए प्रशिक्षण: बीबीए कोर्स छात्रों को व्यावसायिक कोचिंग में प्रशिक्षण देने का एक अच्छा अवसर प्रदान करता है। इन्हें व्यवसायिक प्रबंधन, विपणन, विपणन, वित्तीय प्रबंधन और उद्योग व्यवस्था के क्षेत्र में समर्पित किया जा सकता है।

 स्थिर व्यावसायिक विकल्प: बीएई कोर्स के छात्रों के लिए व्यावसायिक क्षेत्र में एक स्थिर व्यावसायिक संभावना की पेशकश की जा सकती है। यह उन्हें विभिन्न प्रमाणित दुकानों तक के लिए तैयार कर सकता है, जैसे कि प्रबंधनकर्ता, विपणन प्रमुख, वित्तीय पर्यवेक्षक आदि।

 व्यावसायिक जगत की समझ: बीएबीई कोर्स छात्रों को व्यावसायिक जगत की समझ प्रदान करने में मदद करता है। यह उन्हें व्यावसायिक व्यवसाय, विपणन सहयोग, वित्तीय व्यवस्था और कानूनी मामलों की जानकारी प्राप्त करने में सहायक हो सकता है।

BBA Full form in Hindiबीबीए का फुल फॉर्म हिंदी में 

BBA एक डिग्री कोर्स है ओर BBA का full form “Bachelor Of Business Administration” होता है.जिसे BBA full form in hindi में व्यावसायिक प्रबंधन स्नातक कहा जाता है. इस कोर्स में विद्यार्थी business के management को सीखता है।

बीबीए कैसे करें ?

बीबीए (बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन) कार्यक्रम को पूरा करने में कई चरण शामिल होते हैं। अपना बीबीए सफलतापूर्वक कैसे पूरा करें, इस पर एक सामान्य मार्गदर्शिका यहां दी गई है:

1. एक विशेषज्ञता चुनें : बीबीए कार्यक्रम अक्सर विपणन, वित्त, मानव संसाधन, संचालन आदि जैसी विभिन्न विशेषज्ञताएं प्रदान करते हैं। ऐसी विशेषज्ञता चुनें जो आपकी रुचियों और करियर लक्ष्यों के अनुरूप हो।

2. कक्षाओं में उपस्थित रहें: कक्षाओं में नियमित उपस्थिति महत्वपूर्ण है। अपने सीखने के अनुभव का अधिकतम लाभ उठाने के लिए चर्चाओं में सक्रिय रूप से भाग लें, प्रश्न पूछें और अपने प्रोफेसरों और साथियों के साथ जुड़ें।

 3.अध्ययन करें और तैयारी करें: परीक्षा और असाइनमेंट के लिए अध्ययन और तैयारी के लिए पर्याप्त समय आवंटित करें। अपने पाठ्यक्रम को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने के लिए एक अध्ययन कार्यक्रम बनाएं और उसका पालन करें।

 4. परियोजनाओं में भाग लें: कई बीबीए कार्यक्रमों में समूह परियोजनाएं, केस अध्ययन और प्रस्तुतियाँ शामिल हैं। अपनी टीम वर्क और प्रस्तुति कौशल को बढ़ाने के लिए इन गतिविधियों में सक्रिय रूप से भाग लें।

 5. इंटर्नशिप: अपनी रुचि के क्षेत्र से संबंधित इंटर्नशिप के अवसरों की तलाश करें। इंटर्नशिप व्यावहारिक अनुभव और वास्तविक दुनिया का अनुभव प्रदान करती है जो आपकी कक्षा में सीखने को पूरक बना सकती है।

6. नेटवर्किंग: सहपाठियों, प्रोफेसरों और उद्योग में पेशेवरों के साथ संबंध बनाएं। नेटवर्किंग इंटर्नशिप, प्रोजेक्ट और भविष्य की नौकरी की संभावनाओं के अवसर खोल सकती है।

7. कार्यशालाओं और सेमिनारों में भाग लें: कई विश्वविद्यालय और कॉलेज कार्यशालाओं, सेमिनारों और अतिथि व्याख्यानों का आयोजन करते हैं। ये आयोजन वर्तमान उद्योग के रुझानों और प्रथाओं में अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं।

8. अपडेट रहें: व्यवसाय और प्रबंधन क्षेत्र लगातार विकसित हो रहे हैं। किताबें, लेख पढ़कर और प्रासंगिक समाचारों का अनुसरण करके अपनी चुनी हुई विशेषज्ञता में नवीनतम विकास से अपडेट रहें।

9.समय प्रबंधन: बीबीए कार्यक्रम चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं। कोर्सवर्क, असाइनमेंट और अन्य गतिविधियों को संतुलित करने के लिए प्रभावी समय प्रबंधन कौशल विकसित करें।

10. पूर्ण असाइनमेंट: असाइनमेंट को समय पर जमा करना आवश्यक है। पहले से योजना बनाएं और अपने असाइनमेंट पर शोध, लेखन और संपादन के लिए समय आवंटित करें।

11.मदद लें: यदि आपको कुछ विषयों को समझने में कठिनाई हो रही है, तो प्रोफेसरों, सहपाठियों या शिक्षकों से मदद लेने में संकोच न करें।

12. अंतिम परियोजना: कई बीबीए कार्यक्रमों के लिए अंतिम परियोजना या शोध प्रबंध की आवश्यकता होती है। ऐसा विषय चुनें जिसमें आपकी रुचि हो और जो आपकी विशेषज्ञता के अनुरूप हो।

13. व्यवस्थित रहें: समय सीमा, परीक्षा और महत्वपूर्ण तिथियों पर नज़र रखें। व्यवस्थित रहने के लिए कैलेंडर, योजनाकार या डिजिटल टूल का उपयोग करें।

 14. समीक्षा और संशोधन: नियमित रूप से अपने कक्षा नोट्स और अध्ययन सामग्री की समीक्षा करें। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी अवधारणाओं पर अच्छी पकड़ है, परीक्षा से पहले रिवीजन करें।

15.प्रेरित रहें : बीबीए कार्यक्रम चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं, लेकिन प्रेरित रहना महत्वपूर्ण है। अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों और कार्यक्रम को पूरा करने से मिलने वाले अवसरों को याद रखें।

इन चरणों का पालन करके, आप अपने बीबीए कार्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा कर सकते हैं और व्यवसाय जगत में अपने भविष्य के लिए एक मजबूत नींव स्थापित कर सकते हैं।

BBA के लिए Eligibility क्या है ?

इस कोर्स में दाखिले के लिए आपको (10+2) 50% marks के साथ यानी 12 पास होना चाहिए ।तब आप Entrance Exam के लिए eligible हो जाते है । Entrance Exam देकर आपको एक अच्छा संस्थान मिलता है जो gov.भी हो सकता है।लेकिन कुछ प्राइवेट संस्थान में भी आप दाखिला ले सकते उसके लिए आपको entrance एग्जाम की जरूरत नहीं होती है।

बीबीए कहाँ से करें ?

चूंकि BBA व्यापार (business) से जुड़ा है इसलिए ये कोर्स सिर्फ बड़े शहरों में बड़ी university ओर private या सरकारी colleges में उपलब्ध है.इसके लिए आपको कही जाने की जरूरत नही आप घर बैठे ही ऑनलाइन इसकी जानकारी ले सकते है। अगर आप भी BBA में admission लेना चाहते ओर आपके नजदीक गांव या शहर में ये कोर्स नहीं है तो आप किसी दूसरे शहर जाकर ये कोर्स करे या फिर ऑनलाइन यूनिवर्सिटी से भी कर सकते है , इग्नू यूनिवर्सिटी से भी इसको कर सकते है ।या फिर distance Education से भी कर सकते है।

Top BBA College List in India 

हम आपको कुछ TOP कॉलेजेस की एक लिस्ट दे रहे है जिसको आप चुन सकते है।

Institute Selection Process Course Fees Anually (approx.)
Narsee Monjee College of Commerce and Economics, Mumbai Merit in Class 12 exams Rs. 45,433
Wilson College, Mumbai Class 12 Merit Rs. 63,000
Lala Lajpat Rai College of Communication and Economics, Mumbai Class 12 Merit Rs. 49,500
Madras Christian College (MCC), Chennai Class 12 Merit, Personal Interview Rs. 90,000
Shaheed Sukhdev College of Business Studies, Delhi DU JAT Rs. 67,565
Christ University, Bangalore Entrance Test, Skill Assessment, Personal Interview and 10+2 Score Rs. 4,95,000
Mount Carmel College, Bangalore Entrance Exam Rs. 1,50,000
Faculty of Management, Banasthali University, Rajasthan Class 12 Score Rs. 3,27,000
Amity International Business School, Noida Online video response Rs. 2,84,500 (first year)
(PSIT), Kanpur UPSEE Rs.80000

ये professional डिग्री कोर्स 3 से 4 साल का होता है जिसके अंतर्गत विद्यार्थियो को Marketing,Finance,International Business,Human Resources की जानकारी साझा की जाती है।

BBA कोर्स Duration कितना है?

बीएई (बीबीए) कोर्स की अवधि आमतौर पर 3 साल होती है। यह तीन वर्षों का एक पूरा समय स्नातक पाठ्यक्रम है जिसमें व्यवसाय के विभिन्न सिद्धांतों का अध्ययन किया जाता है। कुछ अस्थैतिक में, कुछ कॉलेज या विश्वविद्यालय के छात्र अधिकतम 4 वर्ष तक के लिए बीबीए प्रोग्राम प्रदान कर सकते हैं, जो कि किसी भी विशेष सुविधा के लिए हो सकते हैं।

बीबीए करने में कितनी फीस लगती है ?

बीबीए कोर्स करने के लिए अलग अलग यूनिवर्सिटी की अलग अलग fees होती है वैसे प्राइवेट कॉलेज में इसकी फीस लगभग 60000 रूपए से 400000 रुपए तक भी होती वही सरकारी में इसकी fees लगभग 40000 रुपए के आस पास होती है।

कोर्स 

औसत सालाना फीस (INR)

Full time BBA 

3-6 लाख

Part-time BBA 

45-60 हजार

Online BBA

27-30 हजार

स्कॉलरशिप कैसे प्राप्त करे ?

जब भी आप BBA में एडमिशन लेते है तो जरूर ये देखे की कोनसे कॉलेज scholarship देता है. या नहीं.Top 10 Colleges in India Offering BBA Scholarships हम आपको स्कॉलरशिप वाले कॉलेज की लिस्ट नीचे दे रहे है। Top 10 Colleges in India Offering BBA Scholarships

 
S.No College Total Fee( Anaully )
Amity University, Jaipur INR 84,000
2 Uttaranchal University, Dehradun INR 90,000
3 Raffles University, Neemrana INR 84,000
4 Invertis University, Bareilly INR 50,000
5 JK Lakshmipat University, Jaipur INR 97,200
6 Quantum University, Roorkee INR 70,000
7 Birla Global University, Bhubaneswar INR 1,00,000
8 The ICFAI University, Dehradun INR 1,27,000
9 GNA University, Phagwara INR 73,600
10 Jagran Lakecity University, Bhopal INR 80,000 

बीबीए अपने आप में एक जॉब ओरिएंटेड कोर्स है इसको करने के बाद आप किसी भी retail में जाकर एक नॉर्मल जॉब्स से अपना करियर स्टार्ट कर सकते है लेकिन वही अगर आप MBA कर लेते हैं तो लगभग 25000 रुपए पर month की salary की भी जॉब्स स्टार्ट कर सकते है। लेकिन BBA के बाद आगे क्या करे नीचे जानते है।BBA करने के बाद क्या करना चाहिए ?

1-Next Level Study

BBA करने के बाद आप MBA ,PGDM,ओर MMS जैसे कोर्स कर सकते है।

2-Private Jobs

BBA करने के बाद आप कोई भी प्राइवेट जॉब में जा सकते है जहां आपको शहर के minimum wages के हिसाब से सैलरी package दिया जाएगा। Minimum 8000 से स्टार्ट हो सकती है लेकिन अगर आप metro city में jobs search करेंगे तो आपको 20000 रुपए से भी शुरू हो सकती है।

3-Government jobs

सरकारी नोकरी में जाना चाहते है तो BBA के बाद आप बैंकिंग फील्डए जा सकते है इसके लिए bank Entrance Exam निकलना होगा ।

Entrance Exam कोन से होते है ?

अगर आप BBA करना चाहते है तो आपको इसके लिए कुछ Entrance Exam देने है जिसके माध्यम से आप एक बेहतर संस्थान में दाखिला ले पाएंगे।

  • NPAT
  • DU JAT
  • IP MAT
  • UGAT
  • AIMA
  • SET

चलिए आपको अब हम बताएंगे की कोन कोन से subject होते है इसमें कुल 6 सेमेस्टर होते है जिसे करने के बाद आपको BBA की डिग्री मिल जाती है।

BBA में कोन कोन से subject होते है?

जैसा कि हमने ऊपर कहा कि इसमें 6 सेमेस्टर होते है जिसके बाद ही डिग्री हासिल होती है.

Semester 1 Semester 2
Business English – I Business English – II
Business Mathematics – I Principles of Macro Economics
Principles of Microeconomics Business Mathematics – II
Principles of Financial Accounting Logic & Critical Thinking
Fundamentals of Information Technology Company Accounts
Elements of Management Introduction to Indian Society
Enrichment Course-I Enrichment Course –II
 
Semester 3 Semester 4
Introduction to Indian Business Environment Taxation
Introduction to Business Statistics Introduction to Operations Research
Government & Business introduction to Organizational Behavior
Cost & Management Accounting Introduction to Ethics & Corporate Social Responsibility
Enrichment Course -III English Literature
Oral Communication in Business Indian Business History
Managerial Skills Enrichment Course –IV
  Introduction to Environmental Management

BBA करने के बाद Scope अगर आप BBA करना चाहते हो तो पहले इसका scope जान लो की इस कोर्स को करने के बाद आप कहा कहा जॉब्स कर सकते हो किस फील्ड में जा सकते है। हम नीचे कुछ जॉब्स आपको बता रहे है।

बीबीए कोर्स में कौन सी विशेषज्ञता चुनें?

बीबीए कोर्स में विभिन्न विशेषज्ञताएँ उपलब्ध होती हैं, और आपके आवश्यकताओं और रुचियों के आधार पर एक विशेषज्ञता का चयन कर सकते हैं। यहां कुछ आम विशेषज्ञताओं के उदाहरण हैं:

Marketing: यदि आपकी रुचि मार्केटिंग और ब्रांड प्रबंधन में है, तो आप मार्केटिंग विशेषज्ञता चुन सकते हैं। इसमें उत्पाद प्रचार, विपणन रणनीतियाँ, ब्रांडिंग, डिजिटल मार्केटिंग, और उत्पाद विकास शामिल हो सकते हैं।

Finance Management: यदि आपकी रुचि वित्तीय प्रबंधन और वित्तीय बाजार में है, तो आप वित्तीय प्रबंधन विशेषज्ञता का चयन कर सकते हैं। इसमें निवेश, लोन, बजट प्रबंधन, और वित्तीय योजनाएँ शामिल हो सकती हैं।

Humans Resource Management: यदि आपकी रुचि मानव संसाधन प्रबंधन और कर्मचारी प्रबंधन में है, तो आप मानव संसाधन प्रबंधन विशेषज्ञता चुन सकते हैं। इसमें कर्मचारी चयन, प्रशिक्षण, संगठनात्मक विकास, और कर्मचारी संबंधित मुद्दे शामिल हो सकते हैं।

Organization Management: यदि आपकी रुचि संगठन प्रबंधन, लीडरशिप, और प्रबंधन के क्षेत्र में है, तो आप संगठन प्रबंधन विशेषज्ञता का चयन कर सकते हैं। इसमें संगठन संरचना, कार्यक्रम प्रबंधन, और लीडरशिप विकास शामिल हो सकते हैं।

यदि आपकी रुचियों और करियर लक्ष्यों के आधार पर एक विशेषज्ञता चयन करने में कठिनाई होती है, तो आप विभिन्न विशेषज्ञताओं के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए विश्वविद्यालय के सलाहकारों या प्राधिकृत पेशेवरों से संपर्क कर सकते हैं।

   
Course BBA Subject 
BBA in Marketing 1 Market Research & Analysis
2 retail market
3 Supply Chain Management
4 Financial Accounting
5 Product and Brand Management:
6 Customer Relations
7 Understanding consumer behavior
BBA in Information Technology 1 programming languages
2 Web Designing & Development
3 Business Management and IT
4 Business ethics and communication
5 computer network
6 Software Development
7 Network Security
BBA LLB 1 Jurisprudence
2 Family Law
3 Professional Organization
4 Intellectual Property
5 Corporate Governance
6 Accounting and Finance
7 addr
8 Mergers & Acquisitions
9 Environmental Laws
BBA in Banking and Finance 1 Financial Risk Management
2 business communication
3 Corporate and Banking Law
4 International Banking
5 Resource Mobilization
6 Managerial Economics
BBA in Event Management 1 event advertising and promotion
2 Brand and Media Management
3 Hospitality and Tourism
4 Planning Process
5 Public Relations
6 communication skills
BBA in Artificial Intelligence 1 Data Science
2 Basics of Python
3 Cognitive psychology
4 Operations Management
5 Principles and Applications of AI
6 Business Analytics
7 Basics of Blockchain
  • Information System Manager
  • Human Resources (HR)
  • Marketing Executive
  • Marketing Manager
  • Financial Analyst
  • Retail Manager
  • Sales Executive

BBA कोर्स के लिए किताबे

Subject Book Title and Authors
Principles of Management “Principles of Management” by P.C. Tripathi and P.N. Reddy
Business Communication “Business Communication” by Meenakshi Raman and Prakash Singh
Business Mathematics “Business Mathematics” by N.P. Bali
Microeconomics “Microeconomics: Theory and Applications” by K.R. Gupta
Macroeconomics “Macroeconomics: Theory and Policy” by M.C. Vaish
Financial Accounting “Financial Accounting” by S.N. Maheshwari and S.K. Maheshwari
Marketing Management “Marketing Management” by Rajan Saxena
Human Resource Management “Human Resource Management” by C.B. Mamoria and S.V. Gankar
Business Ethics and Corporate Governance “Business Ethics and Corporate Governance” by A.C. Fernando
Organizational Behavior “Organizational Behavior” by V.S.P. Rao
Business Law “Business Law” by M.C. Kuchhal and Vivek Kuchhal
Entrepreneurship and Small Business “Entrepreneurship and Small Business Management” by Vasant Desai

क्या आपने सिखा  आज अपने क्या नया सिखा मुझे उम्मीद है आपको मेरी ये लेख बहुत पसंद आई होगी क्योंकि मेने BBA Full Form in hindi के विषय के बारे में सारी जानकारी देने की कोशिश की अगर मुझे कोई जानकारी छूट गई हो तो मुझे comment बॉक्स में जरूर बताएं और कुछ जानकारी पाने के लिए हमे contact भी कर सकते है ।

FAQS

अभी में 12वी में पढ़ रहा हूं क्या में BBA का entrance Exam दे सकता हूं ?

12वी की परीक्षा देने वाले छात्र entrance exam दे सकते है लेकिन BBA admission के वक्त उनको पास होने का प्रूफ submit करना होगा।

क्या BBA में Scholership मिलती है ?

हा ,BBA में adminision लेने पर institute /university आपको scholership भी provide करती है ,लेकिन हर institute की scholership अलग अलग है। 

क्या बीबीए आसान है?

हां! business knowledge प्राप्त करने के लिए यह एक आसान कोर्स है। बीबीए के दौरान आप marketing, sales, human resource, finance आदि की अवधारणाओं का ज्ञान प्राप्त करेंगे। किताबी ज्ञान के अलावा, यह Project और practical के माध्यम से practical knowledge भी प्रदान करता है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *