Swachh Bharat Abhiyan hindi
Swachh Bharat Abhiyan hindi

स्वच्छ भारत अभियान हिंदी ? (swachh bharat abhiyan hindi 2023)

आप swachh bharat abhiyan hindi के बारे में क्या जानना चाहते या आप इस पर निबंध लिखना चाहते है (Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi) हमारे इस लेख में इस yojana के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।

स्वच्छ भारत अभियान (स्वच्छ भारत मिशन)यह एक महात्मा गांधीजी का सपना था जो अधूरा रह गया था ।जिसको पूरा करने के लिए  हमारी भारत सरकार ने एक कदम उठाया है।

स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Abhiyan hindi) भारत सरकार द्वारा 2014 में शुरू किया गया राष्ट्रीय स्तर का अभियान है जो भारत के लोगों को स्वच्छता के महत्व को समझाने और स्वच्छता को एक समाजिक आन्दोलन बनाने के लिए शुरू किया गया था।

इस अभियान के तहत समुदायों को स्वच्छता से जुड़े मुद्दों पर जागरूक किया जाता है, उन्हें स्वच्छता के लिए जिम्मेदारी लेने के लिए प्रेरित किया जाता है और समुदायों में स्वच्छता के लिए संसाधनों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इस अभियान के तहत शौचालय निर्माण, सड़कों, स्कूलों, अस्पतालों, बाजारों आदि के साथ-साथ उनकी स्वच्छता की देखभाल भी की जाती है।इसके द्वारा भारत के समस्त नागरिकों को एक स्वच्छता और हवा से प्रदूषण रहित महौल बनाने के लिए प्रेरित किया जाता है।

Table of Contents

स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य(swachh bharat abhiyan hindi)

स्वच्छ भारत अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत को स्वच्छ बनाना है। इस अभियान के माध्यम से भारत सरकार ने लोगों को स्वच्छता के महत्व को समझाने और उन्हें स्वच्छता के लिए जिम्मेदार बनाने का प्रयास किया है। अभियान के माध्यम से भारत सरकार ने निम्नलिखित उद्देश्य तय किए हैं:

  • जनसाधारण को स्वच्छता के महत्व को समझाना।
  • सभी लोगों को स्वच्छता के लिए जिम्मेदारी लेने के लिए प्रेरित करना।
  • सार्वजनिक स्थानों और अंतर्गत समुदायों को स्वच्छ रखने के लिए प्रोत्साहित करना।
  • अशूद्ध शौचालयों को उद्योगों, सरकारी संस्थाओं, स्कूलों और कॉलेजों आदि में समाप्त करना।
  • स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय लोगों, संगठनों और संस्थाओं को जोड़ना।
  • नगरों और शहरों में स्वच्छता से संबंधित बुनियादी सुविधाओं को सुनिश्चित करना।
  • दूषित नदियों, झीलों, तालाबों, समुद्र तटों और अन्य जल संरचनाओं को साफ सुथरा बनाना।

स्वच्छ भारत अभियान का महत्व (swachh bharat abhiyan)

स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया एक राष्ट्रीय स्तर का महाअभियान है जो भारत के लोगों को स्वच्छता और स्वस्थता की जागरूकता दिलाने के लिए शुरू किया गया था। इस अभियान के माध्यम से सार्वजनिक स्थलों, गांवों, शहरों, स्कूलों और कॉलेजों में साफ-सफाई की जागरूकता फैलाई जाती है।

इस अभियान का महत्व अनेक हैं। पहले, इसके माध्यम से लोगों में साफ-सफाई की जागरूकता बढ़ती है जो स्वच्छता और स्वस्थता को बढ़ावा देती है। दूसरे, इसके माध्यम से देश में स्वच्छता के स्तर में सुधार होता है जो जनता के स्वास्थ्य को सुधारता है। तीसरे, इस अभियान के माध्यम से गरीब लोगों के लिए स्वच्छ सुविधाएं उपलब्ध होती हैं जो उनके स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती हैं।

इस अभियान में सभी लोग शामिल हो सकते हैं जो इसे एक सफल अभियान बनाने में मदद कर सकते हैं। 

यह अभियान स्वच्छता को बढ़ाने के साथ-साथ स्वस्थ भारत के लिए भी महत्वपूर्ण है। एक स्वच्छ वातावरण स्वस्थ जीवन का आधार होता है जिससे विभिन्न रोगों से बचा जा सकता है। इस अभियान के द्वारा लोगों को बताया जाता है कि स्वच्छता न केवल स्वस्थ जीवन के लिए बल्कि भारत की छवि बनाए रखने के लिए भी आवश्यक है।

स्वच्छ भारत अभियान की आवश्यकता 

भारत देश की आजादी के बाद इसकी जनसंख्या लगातार बढ़ती गयी और इस देश मे स्वछता पर ध्यान नही दिया गया जबकि हर साल सरकार नगर निगम का बजट पास करती आई है लेकिन फिर भी देश ,शहर ,मुहल्ले ,गली या कोई भी सड़क देखे तो हम अपने देश मे गंदगी पाते है। इसका सबसे बड़ा मुख्य कारण हमारे पास शिक्षा की कमी है । इसलिए सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान शुरू की लोगो को जागरूक बनाने की कोसिस कर रही है। 

देश को स्वच्छ बनाने के क्या उपाय है।

भारत देश को हम और जैसे देश जितना स्वच्छ और साफ सुथरा बना सकते है इसके लिए सरकार का सपोर्ट और जनता को शिक्षित करना है । और देश को स्वछता की और एक अच्छी आदत बनानी है। शिक्षा की कमी के कारण हम गंदगी को खुद फैलाते है।

  • सरकार को हर जगह कूड़ेदान रखने होंगे 
  • कई जगह बड़ा कूड़ाखान खोलना होगा वो भी अंडरग्राउंड होना चाहिए ।
  • सरकार को हर एक मुहल्ले ,शहर की ,सड़कें सही करनी होगी ताकि उसे आसानी से साफ और वाटर से clean किया जा सके।
  • हर दुकानदर को सख्ती से dustbin रखने का आदेश पालन करना होगा।
  • और हर व्यक्ति को अपना कचरा सिर्फ dustbin या कूड़े दान में ही फेखना होगा।
  • थूक पान के लिए हर 500 मीटर की दूरी पर एक पीक दान लगाना होगा।
  • सड़क पर थूकना एक जुर्माना माना जायेगा ऐसा नियम लागू होना चाहिए।
  • सरकार हर वो कदम उठाए जो और बाहर देशों में सफाई को लेकर उठाये जा रहे है ।

स्वच्छ भारत अभियान एक सामाजिक अभियान है जो सभी लोगों को सम्मिलित करने का प्रयास करता है। इस अभियान के अंतर्गत लोगों को सड़कों, बाजारों, स्कूलों, कॉलेजों, हॉस्पिटलों, रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंडों आदि के आसपास के इलाकों को स्वच्छ और साफ सुथरा देखने को मिलता है।

स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत लोगों को भी स्वच्छता का उल्लेख करने वाली जगहों पर कचरा फेंकने से रोकने का संदेश दिया जाता है। इस अभियान के माध्यम से शौचालय बनवाने, नल से जुड़े सभी घरों में स्वच्छता उपचार करने, और पेड़-पौधों को लगाने के लिए भी प्रेरित किया जाता है।

इस अभियान के लिए भारत सरकार ने विभिन्न योजनाएं शुरू की हैं, जिनमें से कुछ हैं:

  1. स्वच्छ भारत अभियान (Clean India Mission)
  2. स्वच्छ भारत-स्वस्थ भारत अभियान (Clean India-Healthy India Mission)
  3. ओड़शा स्वच्छ भारत अभियान (Odisha Clean India Mission)
  4. गंगा स्वच्छता अभियान (Clean Ganga Mission)
  5. स्वच्छ शहर-स्वस्थ शहर अभियान (Clean City-Healthy City Mission)

स्वच्छ भारत अभियान में शामिल मंत्रालय (Points)

  1. शहरी विकास मंत्रालय
  2. राज्य सरकार
  3. ग्रामीण विकास मंत्रालय
  4. गैर सरकारी संगठन
  5. पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय
  6. सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम व निगम

इस प्रकार स्वच्छ भारत अभियान से जुड़ कर ये सभी मंत्रालय अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। सभी मंत्रालय अपने-अपने स्तर पर स्वच्छ भारत अभियान के उद्देश्यों को हासिल करने के लिए प्रयासरत हैं।

इन योजनाओं के माध्यम से भारत सरकार सभी लोगों को स्वच्छता की जिम्मेदारी का एहसास दिलाती है और स्वच्छता के प्रति उन्हें सक्रिय बनाने का प्रयास करती है।

इस प्रकार, स्वच्छ भारत अभियान भारत की स्वच्छता, स्वस्थता, वातावरण और भारत की छवि को बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

स्वच्छ भारत अभियान की द्वारा की गई अचीवमेंटस

स्वच्छ भारत अभियान के द्वारा कुछ अचीवमेंट निम्नलिखित हैं:

स्वच्छता से जुड़ी जागरूकता को बढ़ाना: यह अभियान जनसंचार के माध्यम से लोगों को स्वच्छता के महत्व के बारे में जागरूक करता है। यह अभियान लोगों को साफ-सुथरे रहने के लिए सक्षम बनाता है।

शौचालय बनाना: यह अभियान लोगों को शौचालय बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है। यह भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयों की संख्या में वृद्धि के लिए भी प्रेरित करता है।

स्वच्छ शहर अभियान: यह अभियान शहरी क्षेत्रों में स्वच्छता को बढ़ाने के लिए शुरू किया गया था। इसमें शहरी क्षेत्रों में सड़कों, बाजारों, पार्कों, स्कूलों और कॉलेजों आदि के लिए स्वच्छता के लिए कई नए उपकरण और तकनीकों का उपयोग किया जाता है।

स्वच्छ जल अभियान: इस अभियान के द्वारा, भारत में सफाई के लिए जल संसाधनों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इसमें जल संरचनाएं निर्मित की जाती हैं और जल संसाधनों की संरक्षा के लिए उद्योगों और लोगों को प्रेरित किया जाता है।

स्वच्छता सर्वेक्षण: स्वच्छता सर्वेक्षण भारत के समस्त राज्यों और क्षेत्रों में स्वच्छता स्तर का मापन करता है। इसमें स्कोर के आधार पर रैंकिंग की जाती है और लोगों को स्वच्छता के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

विद्यालयों में स्वच्छता: स्वच्छ भारत अभियान के तहत विद्यालयों में स्वच्छता को बढ़ाने के लिए कई नए उपकरण भी  काम में लगाए गए है।

स्वच्छ भारत अभियान के घटक :

स्वच्छ भारत के घटक नीचे दिए गए है….

स्वच्छ शहर/गांव: यह घटक शहरों और गांवों को स्वच्छ बनाने के लिए जिम्मेदार बनाता है। इसके अंतर्गत, लोगों को सड़कों, स्कूलों, अस्पतालों, बाजारों और अन्य स्थानों को साफ सुथरा रखने के लिए प्रेरित किया जाता है।

स्वच्छ जल: यह घटक जल संरक्षण को बढ़ावा देता है। इसके अंतर्गत, लोगों को सफाई और जल संरक्षण के लिए जागरूक किया जाता है।

स्वच्छता और संगठन: यह घटक उच्चतम स्तर की स्वच्छता और संगठित स्वच्छता प्रथाओं के विकास को प्रोत्साहित करता है। 

स्वच्छ भारत अभियान के प्रचार के लिए भारत की बड़ी बड़ी हस्तियां भी सामिल है…

इस स्वच्छ भारत अभियान के मिशन में सहयोग देने  भारत की बड़ी-बड़ी हस्तियोनें भाग लिया है । इस मिशन का प्रचार  का जिम्मा ग्यारह लोगों को दिया गया, जो कि निम्मलिखित हैं:–

  • सचिन तेंदुलकर
  • बाबा रामदेव
  • सलमान खान
  • अनिल अंबानी
  • प्रियंका चोपड़ा
  • शशि थरुर
  • मृदुला सिन्हा
  • कमल हसन
  • विराट कोहली
  • महेन्द्र सिंह धोनी
  • ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल की पूरी टीम

स्वच्छ भारत अभियान के कुछ नारे जो नीचे दिए गए है –

  1. स्वच्छता ही सेवा है
  2. स्वच्छता अभियान सुरक्षा के साथ जुड़ा हुआ है
  3. स्वच्छता अभियान हमारा कर्तव्य है
  4. स्वच्छता अभियान से हम सभी को लाभ होता है
  5. देश को स्वच्छ बनाना हम सबका संगठित प्रयास है
  6. खुशहाल जीवन के लिए स्वच्छता अनिवार्य है
  7. स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत है
  8. स्वच्छता से समृद्धि होती है
  9. स्वच्छता ही संगठित जीवन की नींव होती है
  10. गंदगी फैलाने वालों को हम सब मिलकर रोकेंगे
  11. स्वच्छता हमारे व्यक्तिगत स्तर से शुरू होती है
  12. स्वच्छता अभियान हमारे देश का सम्मान है
  13. गंदगी को हम सब मिलकर खत्म करेंगे
  14. स्वच्छता से हमारी आभासी सौंदर्य बढ़ती है

Swachh Bharat Abhiyan hindi में किए गए सर्वेक्षण

  • स्वच्छता सर्वेक्षण 2014 के अनुसार, राष्ट्रीय स्तर पर शौचालय सुविधाएं के उपलब्ध होने की दर 38.7% से बढ़कर 95.6% हो गई।
  • स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत समुदाय के लोगों को स्वच्छता के लिए जागरूक करने और संबोधित करने के लिए दूरदर्शन कार्यक्रम, रेडियो संवाद और समूह संवाद कार्यक्रम आयोजित किए गए।
  • स्वच्छ भारत अभियान 2015 का मुख्य उद्देश्य भारत को स्वच्छ बनाना था। इस अभियान के अंतर्गत कई सर्वेक्षण किए गए थे।
  • इनमें से एक सर्वेक्षण 2019 में लॉन्च किया गया था, जिसमें भारत के विभिन्न राज्यों और शहरों में स्वच्छता के स्तर का मूल्यांकन किया गया था। इस सर्वेक्षण में भारत के 200 शहरों का मूल्यांकन किया गया था।
  • इस सर्वेक्षण के अनुसार, मुंबई भारत का सबसे अधिक स्वच्छ शहर था, जिसके बाद पुणे और इंदौर आते थे। दूसरी ओर, भारत के सबसे अधिक अशुद्ध शहरों में धनबाद, बिहार, और चांदीगढ़ आते थे।
  • भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए स्वच्छ भारत अभियान के तहत, 2017 में कई सर्वक्षण किए गए थे। इनमें से कुछ निम्नलिखित हैं:

गंगा नदी का स्वच्छता सर्वेक्षण: इस सर्वेक्षण में गंगा नदी के किनारे के 11 राज्यों में से 10 राज्यों के नदी किनारों की स्वच्छता की जाँच की गई थी।

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता सर्वेक्षण: इस सर्वेक्षण में भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता स्तर की जाँच की गई थी।

सार्वजनिक स्थानों का स्वच्छता सर्वेक्षण: इस सर्वेक्षण में भारत के कुछ बड़े शहरों में सार्वजनिक स्थानों की स्वच्छता की जाँच की गई थी।

स्कूलों में स्वच्छता सर्वेक्षण: इस सर्वेक्षण में भारत के स्कूलों में स्वच्छता के स्तर की जाँच की गई थी।

इन सर्वेक्षणों के माध्यम से स्वच्छ भारत अभियान के प्रगति को मापा जा सकता था और अभियान के लक्ष्य को पूरा करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा सकते थे।

2018 में स्वच्छ भारत अभियान की प्रगति के बारे में अनुमान तैयार किए गए थे। इन अनुमानों के अनुसार, अभियान के शुरू होने के बाद से लगभग 9.5 करोड़ शौचालय बनाए गए थे। इसके अलावा, अभियान द्वारा सड़कों, जहां खुले में शौच करना आम था, को साफ करने के लिए भी कदम उठाए गए थे।

अभियान के अंतर्गत जल उपचार के लिए भी कदम उठाए गए थे। नममिट्टी के नाम से जाना जाने वाला एक अन्य पहल भी शुरू की गई थी, जिसके द्वारा जल की सुधार की जाती है। अभियान के द्वारा लोगों को साफ-सुथरा रखने के लिए जागरूकता बढ़ाने के लिए कदम उठाए गए थे।

HomeOfficial website – Click Here
Swachh Bharat Abhiyan hindi

उपलब्धि और प्रभाव 

ओडीएफ (खुले में शौच मुक्त): इस शब्द का प्रयोग उस क्षेत्र का वर्णन करने के लिए किया जाता है जहां लोग खुले में शौच नहीं करते हैं, और इसके बजाय शौचालय या अन्य सुरक्षित स्वच्छता सुविधाओं का उपयोग करते हैं। यह स्वच्छता का बुनियादी स्तर है जिसे स्वच्छ भारत अभियान का लक्ष्य हासिल करना है।

ओडीएफ+ (खुले में शौच मुक्त ): इस शब्द का प्रयोग उस क्षेत्र का वर्णन करने के लिए किया जाता है जिसने ओडीएफ का दर्जा हासिल कर लिया है।इसका मतलब यह है कि न केवल लोग खुले में शौच नहीं कर रहे हैं, बल्कि उनके द्वारा उत्पन्न कचरे का सुरक्षित और स्वच्छ तरीके से प्रबंधन भी किया जा रहा है।

ओडीएफ++ (खुले में शौच मुक्त ): इस शब्द का प्रयोग उस क्षेत्र का वर्णन करने के लिए किया जाता है जिसने ओडीएफ+ का दर्जा हासिल कर लिया है, लेकिन स्वच्छता और स्वच्छता के मामले में और भी आगे बढ़ गया है। इसमें सार्वजनिक स्थानों की स्वच्छता सुनिश्चित करना, मल ,कीचड़ और सेप्टेज का उचित प्रबंधन और स्थायी स्वच्छता तकनीकों के उपयोग को प्रोत्साहित करने जैसी विशेषताएं शामिल हैं।

कुल मिलाकर, Swachh Bharat Abhiyan hindi का उद्देश्य खुले में शौच को समाप्त करने और सभी के लिए सुरक्षित स्वच्छता प्रथाओं को सुनिश्चित करने पर विशेष ध्यान देने के साथ भारत की समग्र स्वच्छता और स्वच्छता में सुधार करना है।

Read Also

Haryana saksham yojna ?

Mukhyamntri chirnjivi bima yojana ?

FAQ’S

प्रश्न: स्वच्छ भारत अभियान का मुख्य उद्देश्य क्या है?

उत्तर: स्वच्छ भारत अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत को स्वच्छ बनाना और सार्वजनिक स्वास्थ्य, जीवन की गुणवत्ता और संरक्षण को बढ़ाना भी है।

प्रश्न: स्वच्छ भारत अभियान के तहत कौन से कार्य किए जाते हैं?

उत्तर: स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण, सड़कों, नालों और सार्वजनिक क्षेत्रों की सफाई, स्वच्छता को बढ़ावा देना, जनता के बीच जागरूकता पैदा करना और ठोस और तरल  प्रबंधन प्रथाओं को लागू करने जैसे कार्य किए जाते हैं

प्रश्न: स्वच्छ भारत अभियान में नागरिकों की क्या भूमिका है?

उत्तर:नागरिक उचित अपशिष्ट निपटान विधियों का पालन करके, अपने आस-पास स्वच्छता बनाए रखते हुए, और किसी भी अस्वच्छ क्षेत्र की सूचना अधिकारियों को देकर स्वच्छ भारत अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है

प्रश्न:स्वच्छ भारत अभियान का ब्रांड एंबेसडर कौन है?

उत्तर:स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एंबेसडर अभिनेता अमिताभ बच्चन हैं।

प्रश्न: स्वच्छ भारत मिशन क्या है?

उत्तर:स्वच्छ भारत मिशन स्वच्छ भारत अभियान के तहत शुरू किया गया कार्यक्रम है, जिसका उद्देश्य 2 अक्टूबर, 2019 तक एक स्वच्छ और खुले में शौच मुक्त भारत के हर एक कोने कोने में स्वच्छता को प्राप्त करना है।

प्रश्न: Swachh Bharat Abhiyan hindi के क्या लाभ हैं?

उत्तर:स्वच्छ भारत अभियान के लाभों में बेहतर सार्वजनिक स्वास्थ्य और स्वच्छता, रोजगार के अवसरों में वृद्धि, पर्यटन को बढ़ावा देना और जीवन की बेहतर समग्र गुणवत्ता शामिल है।

प्रश्न:स्वच्छ भारत अभियान में व्यक्ति कैसे योगदान दे सकते हैं?

उत्तर:व्यक्ति उचित अपशिष्ट निपटान विधियों का अभ्यास करके, अपने आस-पास स्वच्छता बनाए रखने और अधिकारियों को किसी भी अशुद्ध क्षेत्र की सूचना देकर स्वच्छ भारत अभियान में योगदान दे सकते हैं। वे स्वच्छता अभियान में भी भाग ले सकते हैं और स्वच्छता के महत्व के बारे में जागरूकता को बढ़ावा दे सकते हैं।

Similar Posts