600+ Word Essay on Save Earth

पृथ्वी बचाओ पर 600+ शब्दों में निबंध

पृथ्वी और पृथ्वी की संपत्ति उस पर जीवन को बोधगम्य बनाती है।  अगर हम किसी तरह इन संपत्तियों के बिना अपने जीवन की कल्पना करने में कामयाब रहे, तो यह वास्तव में कल्पना करने योग्य नहीं है।  जैसे दिन के उजाले, हवा, वनस्पति और पानी के बिना जीवन नहीं चल सकता।  जैसा भी हो, यह जल्द ही हमारा अस्तित्व होने वाला है यदि हम अब पृथ्वी को नहीं बचाते हैं

पृथ्वी हमें जो संपत्ति देती है वह प्रतिबंधित है।  वे एहसान हैं जिनकी हम गिनती नहीं करते हैं।  इंसान बचपना हो गया है और दुनिया की संपत्ति का तेजी से इस्तेमाल कर रहा है।  हम वास्तव में अपने जीवन की रक्षा के लिए उनकी रक्षा करना चाहते हैं।  यह इस आधार पर है कि मनुष्य और सभी जीवित जीव अपने धीरज के लिए पृथ्वी पर निर्भर हैं।

यह समय की मांग है

यह कहना कि पृथ्वी को बचाना हमारा फर्ज और धर्म है सबसे जरुरी समय की आवश्यकता है, एक ख़ामोशी होगी।  लालच और स्वार्थ से प्रेरित मनुष्यों की सभी गतिविधियों ने पृथ्वी को अत्यधिक क्षति पहुंचाई है। मरम्मत से परे इसे नीचा दिखाया गया है। इन गतिविधियों के कारण लगभग सभी प्राकृतिक संसाधन अब प्रदूषित हो रहे हैं।

जब ये सभी संसाधन खतरे में होंगे, तो स्वाभाविक रूप से सभी जीवों का जीवन संकट में पड़ जाएगा।  इसलिए हमें हर हाल में धरती को बचाना है। अन्य सभी मुद्दे गौण हैं और पृथ्वी को बचाना मुख्य चिंता है। क्योंकि जब पृथ्वी नहीं रहेगी, तो अन्य मुद्दे अपने आप दूर हो जाएंगे।

पृथ्वी ही एकमात्र ऐसा ग्रह है जो इस पर जीवन का निर्वाह कर सकता है।  हमारे पास कोई ग्रह B नहीं है जिस पर हम जा सकते हैं। यह पृथ्वी को बचाने और हमारे जीवन को बचाने के लिए इसे और अधिक गंभीर बनाता है। अगर हम अभी सख्त कदम नहीं उठाते हैं, तो हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को हमेशा के लिए फलते-फूलते देखने का मौका खो देंगे।  सभी को समान कारणों से एक साथ आना चाहिए, क्योंकि हम पहले इस ग्रह के निवासी हैं और फिर कुछ और।

पृथ्वी को बचाने के निर्देश

चूंकि सभी मानव व्यायाम विभिन्न जीवित प्राणियों के अस्तित्व को प्रभावित कर रहे हैं, लोगों को पृथ्वी और उसकी संपत्ति की रक्षा के लिए जो कुछ भी करना है वह करना है।  थोड़ी सी मेहनत हर किसी के अंत में बहुत बड़ा बदलाव लाएगी।  हर गतिविधि का असर होगा।  उदाहरण के लिए, यदि कोई व्यक्ति फ़िल्टर्ड पानी पीना छोड़ देता है, तो बड़ी संख्या में प्लास्टिक को पॉलिश होने से बचाया जा सकता है।

पेड़ पौधे को बचा कर 

इसके अलावा, हम इन दिनों तेजी से हो रहे वनों की कटाई की भरपाई के लिए और अधिक पेड़ लगाकर शुरुआत कर सकते हैं।  उस समय जब हम अधिक पेड़ लगाते हैं, प्राकृतिक संतुलन को फिर से स्थापित किया जा सकता है और हम व्यक्तिगत संतुष्टि पर काम कर सकते हैं।

पानी को बर्बाद होने से बचाये 

साथ ही हमें पानी की बर्बादी भी छोड़ देनी चाहिए।  जब व्यक्तिगत स्तरों पर किया जाता है, तो यह पानी के संरक्षण पर व्यापक प्रभाव डालेगा।  हमें अपने जलस्रोतों में कचरा उतार कर उसे गंदा नहीं करना चाहिए।  यह विशेष रूप से पानी बचाने के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह तेजी से समाप्त हो रहा है।

लोगो को सिखा कर पृथ्वी बचाये 

कम शब्दों में कहा जाए तो सरकार और व्यक्तियों को पृथ्वी को बचाने के लिए एकजुट होना चाहिए। हम लोगों को पृथ्वी को ना बचाने के दुष्परिणामों से लोगो को जागरूक कर सकते है । लोगो को तरीके सिखाए जा सकते हैं और वे पृथ्वी को बचाने में कैसे योगदान दे सकते हैं। यदि यह सब सामूहिक प्रयास होने लगे तो हम निश्चित रूप से अपने ग्रह पृथ्वी (Earth) को बचा सकते हैं और पृथ्वी को उज्जवल बना सकते हैं।

Read Also 

Home

National Giofraphic Kids

FAQs (600+ Word Essay on Save Earth)

1 . हम पृथ्वी को कैसे बचा सकते हैं?

हम अपनी पृथ्वी को बचा सकते इसके लिए हमें ज्यादा पेड़ लगाने है ,पानी कम खर्च करना है , प्लास्टिक , और खचरे को रीसायकल करना होगा ,मानव को अपनी लालच पर कंट्रोल करना होगा। तभी पृथ्वी बचेगी 

2 . हम पृथ्वी को खूबसूरत कैसे बना सकते है ?

हमें सबसे पहले शिक्षा लेनी होगी और प्रयवरण की तरफ अपना योगदान और स्टडी करनी होगी ,पेड़ पौधे लगाने होंगे पानी को बचाना होगा ,पंक्षी को बचाना होगा ,कचरा रीसायकल करना होगा।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here